संघ-भाजपा की दंगों की राजनीति को शिकस्त देने के संकल्प के साथ समाप्त हुआ भाकपा(माले) का उपवास

संघ-भाजपा की दंगों की राजनीति को शिकस्त देने के संकल्प के साथ समाप्त हुआ भाकपा(माले) का उपवास

#डीएम को सौंपा गया 5सूत्री मांगपत्र।
#दंगों की राजनीति के बरक्स मुद्दों की राजनीति को सामने लाना होगा- बैद्यनाथ यादव

लहेरियासराय, 6 सितंबर 2020।
भाकपा(माले) दरभंगा जिला कमिटी के नेतृत्व में दंगों की राजनीति के खिलाफ अमन व भाईचारे के लिए पोलो मैदान में चल रहा उपवास आज दूसरे दिन सायं 3 बजे सम्पन्न हुआ। उपवास स्थल पर भाकपा(माले) जिला कमिटी सदस्य ललन पासवान की अध्यक्षता में आयोजित सभा को सम्बोधित करते हुए भाकपा(माले) जिला सचिव बैद्यनाथ यादव ने कहा कि दरभंगा ऐतिहासिक तौर पर अमन पसंद ज़िला रहा है।गंगा जमुनी तहज़ीब यहां के रग रग में बसा है और आपसी भाईचारे के तहत लोग यहां रहते रहे हैं।

राजनीतिक स्वार्थ के तहत नफरत और विभाजन का बीज रोपने की कोशिश मुट्ठीभर लोग कर रहे हैं।कोरोना जैसी महामारी में भी इस तरह का घृणित काम हुआ।पिछले दिनों केवटी के बरही,जाले के नरौछ,म्हदेई आदि जगहों पर उन्माद और उत्पात की दुखद घटनाएं घटीं हैं। समाज की जागृति और सामूहिक प्रयास से मामले पर एक हद तक काबू पाया गया। लेकिन ये ताकतें लगातार छोटी-छोटी मामलों को साजिश के तहत अपवाह फैलाकर दंगों में तब्दील करने में लगे हैं। प्रशासन भी उन दंगाइयों पर सख्त कार्रवाई करने के बदले आम लोगों को तंग-तबाह करती हैं। भाकपा(माले) दंगा राजनीति के खिलाफ भंडाफोड़ अभियान गांव-गांव में चलाने का काम करेंगी। उन्होंने कहा कि आने वाला चुनाव में भाजपा को शिकस्त देकर ही इस तरह की राजनीति पर लग़ाम लगाया जा सकता हैं। वरिष्ठ नेता आर0 के0 सहनी ने कहा कि नीतीश कुमार भाजपा व संघ परिवार के साम्प्रदायिक राजनीति के सामने घुटने टेक चुके हैं। और इनका प्रशासन इनको दंगा भड़काने की खुली छूट दिए हुए हैं। इंसाफ मंच के प्रदेश उपाध्यक्ष नेयाज अहमद ने कहा कि दरभंगा प्रशासन भाजपा सांसद-विधायक की कठपुतली बन चुकी हैं। और इंसाफ की आवाज को दबाने में लगी हैं। उन्होंने कहा कि लहवार मलियाटोल की घटना में पुलिस ने एकतरफा कार्रवाई करते हुए अक्लियत समुदाय को जेल भेज दिया गया लेकिन दूसरे तरफ हुए मुकदमे एक भी लोगों की गिरफ्तारी नहीं किया गया हैं। सभा को सम्बोधित करते हुए भाकपा(माले) राज्य कमिटी सदस्य अभिषेक कुमार ने कहा कि भाजपा की दंगों की राजनीति लोगों को समझ आने शुरू हो चुका हैं। कल पूरे देश के नौजवानों ने थाली पीटकर कह दिया कि अब देश में रोज़गार व मुद्दों की बात होगी। सभा को भाकपा(माले) जिला स्थायी समिति सदस्य नंदलाल ठाकुर, नगर सचिव सदीक भारती, भाकपा(माले) जिला कमिटी सदस्य धर्मेश यादव, देवेंद्र कुमार, अवधेश सिंह, सुनील यादव, सुरेंद्र पासवान, रामबाबू साह, कामेश्वर पासवान, मकसूद आलम”पप्पू खा,मो शमीम ईश्वर दयाल सिंह, मोहन पासवान, असलम खान, रेबी यादव, रानी शर्मा, विनोद सिंह आदि ने संबोधित किया। भाकपा(माले) के वरिष्ठ नेता आर0 के0 सहनी और ऐपवा की वरिष्ठ नेत्री रानी शर्मा ने उपवास पर बैठे लोगों को जूस पिलाकर उपवास खत्म करवाया। उपवास के जरिये 5 सूत्री मांग-पत्र दरभंगा डीएम को सौंपा गया।
बैद्यनाथ यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!