ज्योति कुमारी की निर्मम हत्या पर दलित संगठनों ने कैण्डल मार्च निकाला, पुलिस प्रशासन पर लगाया आरोप!

ज्योति कुमारी की निर्मम हत्या पर दलित संगठनों ने कैण्डल मार्च निकाला, पुलिस प्रशासन पर लगाया आरोप!

गुरुवार 2 जुलाई को पत्तोर ओपी गांव के मूलनिवासी अशोक पासवान की पुत्री ज्योति कुमारी के साथ हुई रेप एवं हत्या को लेकर दलित संगठनों के द्वारा दरभंगा जिला के अललपट्टी चौक से कर्पूरी चौक तक कैंडल मार्च निकाला गया। जिसका नेतृत्व अमरजीत अंबेडकर ज़िला अध्यक्ष द ग्रेट भीम आर्मी दरभंगा के नेतृत्व में किया गया। जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में राजेश कुमार राम ने इस घटना की घोर निंदा करते हुए प्रशासन की लापरवाही पर आरोप लगाते हुए कहा की ज्योति कुमारी की निर्मम हत्या के पीछे अपराधी को प्रशासन के द्वारा अपने संरक्षण में रखना जिला प्रशासन की लापरवाही को दर्शाता है। साथ ही ई. सोनू ने इस घटना पर प्रशासन को आड़े हाथों लेते हुए वरीय पुलिस अधीक्षक पर

दोषारोपण का आरोप लगाते हुए कहा कि बिना पोस्टमार्टम रिपोर्ट आए हुए जिला प्रशासन कैसे अपना बयान जारी कर सकते हैं इससे प्रतीत होता है कि प्रशासन उक्त आरोपी को बचाने की कोशिश कर रहे हैं। साथी सतीश कुमार भारती ने कहा कि यदि जिला प्रशासन अपराधी को अविलंब गिरफ्तार नहीं करती है तो हम सभी दलित संगठनों के द्वारा द ग्रेट भीम आर्मी एवं भीम आर्मी एवं अन्य संगठनों के द्वारा पूरे प्रदेश स्तर पर आंदोलन की जाएगी। इस कैंडल मार्च में शामिल सभी दलित संगठनों के दिनेश महतो सुरेंद्र मलिक रोहित पासवान राजेश कुमार राम उमेश राम बबलू पासवान मनीष पासवान पवन महतो आदर्श राजीव पासवान डॉ पंकज कुमार डॉक्टर की डॉ अभिषेक कुमार चौधरी अखिलेश पासवान सरवन पासवान श्रवण राम श्रवण साथी संतोष राम राजू मंडल बबलू ने बढ़ चढ़कर भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!