-डीएम। जिलाधिकारी, दरभंगा डाॅ0 त्याग राजन एस.एम. निर्देश

कोरोना वायरस पर नियंत्रण हेतु सभी प्रकार की पब्लिक जुटान पर रोक।

सोषल डिस्टेंसिंग बनाकर ही कोराना की महामारी से हम सभी बचेगे।

कोई भी लोग घर से अनावष्यक घर से बाहर नहीं निकलें -डीएम।
जिलाधिकारी, दरभंगा डाॅ0 त्याग राजन एस.एम. ने कहा है कि नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने हेतु सभी प्रकार के पब्लिक जुटान ( गैदरिंग ) पर सरकार द्वारा तत्काल प्रभाव से रोक लगा दिया गया है। एक जगह पर 50 से अधिक व्यक्तियों के जुटने पर मनाही होगी। इसी के दृष्टिगत पब्लिक कंसर्न वाले सभी सरकारी संस्थानों, स्कूल, काॅलेज, छात्रावास, कोचिंग संस्थान, सिनेमा हाॅल, माॅल, रेस्तराॅ आदि के संचालन पर पूर्णरूपेण रोक लगा दिया गया है। उन्होंने कहा कि माननीय मुख्य मंत्री द्वारा कल वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग करके पूरे राज्य में सामूहिक गतिविधियों पर तुरंत रोक लगाने का आदेा दिया गया है। कहा कि सरकार के सभी निदेषों का जिला में सख्ती से अनुपालन किया जायेगा। सभी अनुमंडल पदाधिकारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचल अधिकारी, थाना प्रभारी को सरकार के निर्देषों का सख्ती से अनुपालन करने का निर्देष दिया गया है। उन्होंने ये बातें कार्यालय प्रकोष्ठ में आयोजित एक बैठक में कहीं है।

उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों मे कई प्रकार के धार्मिक अनुष्ठान /पर्व/त्यौहार की तिथि पड़ रही है । बहुतायत लोगों के द्वारा ये पर्व त्यौहार एकत्रित होकर मनाने की प्रथा रही है। लेकिन कोरोना महामारी के प्रकोप को देखते हुए इस वर्ष एक जगह जमा होकर पर्व मनाया जाना कहीं से उचित नही है। ऐसा करने से वायरस के फैलने का बड़ा खतरा रहेगा। सभी लोगो को कोरोना बीमारी की गंभीरता को समझनी होगी। अभी सोषल डिस्टेंसिंग बनाकर ही कोराना की महामारी से हम सभी बचेगे। इस संकट की घड़ी में सभी लोगों को आगे बढ़कर सहयोग करनी चाहिए। उन्होने कहा कि छठ एवं रामनवमी का त्यौहार सभी लोग अपने-अपने घरों में ही मनायें।
उन्होंने कहा कि ऐहितियात के तौर पर धार्मिक न्यास परिषद के द्वारा भी सभी मंदिरों को बंद करने का निर्णय लिया गया है। सभी मंदिरों में श्रद्धालुओं के प्रवेष पर रोक रहेगी। मंदिरों में सिर्फ राज भोग/आरती का कार्य होगा जिसमें 2 से 3 व्यक्ति ही शामिल होगे। इसी के दृष्टिगत जिला में अवस्थित बाबा कुषेष्वरस्थान मंदिर एवं अन्य बड़े /छोटे सभी मंदिर भी बंद रहेगे। उन्होनें बताया कि जिला में अवंिस्थत सभी सरकारी एवं निजी षिक्षण संस्थानों को पहले से ही बंद कर दिया गया है। सरकार द्वारा सभी रेस्टोरेंट, विवाह भवन ( बैक्वेंट हाॅल ), होटल में संचालित विवाह भवन, लाइन होटल, ढावा, पान की दुकानें आदि को भी अगले आदेष तक बंद रखने का निर्णय लिया गया है। राज्य के अंदर एवं राज्य के बाहर चलने वाली सभी बसों के परिचालन पर भी रोक लगाने का निर्णय लिया गया है। सभी निबंधन कार्यालय आर.टी.पी.एस सेंटर, जिला लोक षिकायत निवारण केन्द्र भी अगले आदेष तक बंद कर दिये गये है लेकिन आॅनलाईन सेवा जारी रहेगी। लोग आॅनलाईन अपना आवेदन/ षिकायत दर्ज करा सकते हैं।
जिलाधिकारी ने जिला परिवहन पदाधिकारी एवं अनुमंडल पदाधिकारी को बसों के परिचालन पर सख्ती से रोक लगाने का निर्देष दिया गया है। उन्होने कहा कि कोरोना के प्रकोप को देखते हुए बंदी आदेष को सख्ती से लागू करने के सिवा दूसरा कोई उपाय नहीं है।
उन्होंने कहा कि सभी लोगों को अभी अपने घरों में ही रहने के लिये प्रेरित किया जाये। वे अत्यंत जरूरी कामों के लिये ही घरों से निकलें। बाजार में दैनिक उपयोग की सभी आवष्यक सामग्रियों का पर्याप्त स्टाॅक है। कालाबाजारी को नियंत्रित करने हेतु छापामारी कराई जा रही है। जिला के सभी प्रमुख व्यवसायिक संगठनों के साथ बैठक करके उन्हें जरूरी हिदायत दे दिया गया है। सभी व्यवसायियों के द्वारा पूर्ण सहयोग का आष्वासन दिया गया है । जिला प्रषासन द्वारा पूरी स्थिति की बराबर निगरानी की जा रही हैै।
बैठक में उपस्थित वरीय पुलिस अधीक्षक बाबू राम ने सभी पुलिस पदाधिकारियों, थाना प्रभारियों को कोरोना बीमारी को नियंत्रित करने हेतु सरकार के सभी निर्देषों का सख्ती से अनुपालन सुनिष्चित कराने को कहा है। उन्होंने कहा कि सिविल प्रषासन के अधिकारियों से समन्वय बनाकर लाइन होटल, रेस्टोरेंट, ढाबा, बसों के परिचालन पर पूर्ण रोक सुनिष्चित की जाये। कहा कि अपने साथ काम करने वाले जुनियर स्टाफ/जवान को भी सरकार के निदेषांे की जानकारी दे दें। उन्हें स्वयं अपना साफ-सफाई रखने के लिए भी बतायें। पुलिस अधीक्षक ने कहा है कि थाना की सभी गाड़ियों में पब्लिक एड्रेस सिस्टम लगा लें ताकि जरूरत पड़ने पर इसका उपयोग हो सके।

जिलाधिकारी ने कहा है कि अगर किसी व्यक्ति की तवीयत खराब हो तो जिला नियंत्रय कक्ष

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!