नई दिल्ली: ईद-उल-अजहा (Eid al-Adha) को लेकर पसोपेश की स्थिति खत्म हो गई है.

नई दिल्ली: ईद-उल-अजहा (Eid al-Adha) को लेकर पसोपेश की स्थिति खत्म हो गई है. पहले बकरीद (Bakrid) की तारिख 23 बताई जा रही थी, लेकिन अब यह तय हो गया है कि बकरीद का त्योहार 22 अगस्त को ही मनाया जाएगा. इससे पहले इमरात-ए-शरीया-हिंद (Imarat E Sharia Hind) और रूयत-ए-हिलाल कमेटी (Ruet-e-Hilal Committee) समेत कई कमेटियों ने 22 अगस्त को ईद-उल-अजहा मनाने का ऐलान किया था लेकिन मरकजी-ए-हिलाल कमेटी (Markazi E Hilal Committee) ने इससे इत्तेफाकी नहीं जताते हुए 23 अगस्त को बकरीद मनाने की घोषणा की थी.

चांदनी चौक स्थित फतेहपुरी मजिस्द के शाही इमाम मौलाना मुफ्ती मुकर्रम अहमद ने कहा कि 12 अगस्त को दिल्ली के आसमान में बादल छाए रहने की वजह से चांद नहीं दिखा था. 15 अगस्त को फतेहपुरी कदीम-रूयत-ए-हिलाल कमेटी की फिर से बैठक हुई, जिसमें देश के अन्य हिस्सों में चांद दिखने के बारे में कई गवाही आईं. इसके बाद ईद-उल-अजहा या जुहा की तारीख पर सहमति बन गई है.

One thought on “नई दिल्ली: ईद-उल-अजहा (Eid al-Adha) को लेकर पसोपेश की स्थिति खत्म हो गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!