शोषित और वंचितों की आवाज थे पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर

शोषित और वंचितों की आवाज थे पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर

डॉ अशोक कुमार सिंह.

आज दिनांक 17-4-2020 को प्रखर समाजवादी राष्ट्रपुरुष जननायक युवा तुर्क पूर्व प्रधानमंत्री श्री चंद्रशेखर जी की 93 वी जयंती प्रोफेसर कॉलोनी बंगाली टोला स्थित डॉ अशोक सिंह के आवास पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए मनाया गया, जिसकी अध्यक्षता बिहार प्रदेश जनता दल यू शिक्षा प्रकोष्ठ के उपाध्यक्ष डॉ अशोक कुमार सिंह ने की। इस अवसर पर श्री चंद्रशेखर जी के फोटो व माल्यार्पण करते हुए डॉ अशोक सिंह ने कहा पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर हमेशा शोषित एवं वंचित वर्गों के लिए आवाज उठाई और सामाजिक बदलाव के नीति को प्राथमिकता दी। देश उनके योगदान को सदा याद रखेगा।
छात्र जनता दल यू के प्रदेश उपाध्यक्ष शंकर कुमार सिंह ने कहाजिस तरह भारतीय राजनीतिक में “युवा तुर्क” के नाम से विख्यात पूर्व प्रधानमंत्री श्री चंद्रशेखर अपनी साहस, अडिग विचारों के लिए जाने जाते थे,वेछात्र राजनीति के दौर से ही वे अपने तेज तरार , आशावादी, और क्रांतिकारी तेवर के लिए विख्यात रहे।
अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के संयोजक विजय कुमार सिंह ने कहा देश के 11वें प्रधानमंत्री रहे श्री चंद्रशेखर का जन्म 17 अप्रैल 1927 को उत्तर प्रदेश के बलिया जिला में इब्राहिम पट्टी गांव में हुआ था।देश के आजादी के बाद सत्ता परिवर्तन के साथ व्यवस्था परिवर्तन में लोकनायक जयप्रकाश के सच्चे अग्रदूत थे ।इस अवसर पर प्रोफ़ेसर विनय कुमार सिंह, आशुतोष तिवारी, प्रकाश राम ,संजीत राय इत्यादि ने पुष्पांजलि अर्पित करते हुए श्रद्धा सुमन अर्पित किया और उनके विचारों को आगे बढ़ाने के लिए संकल्प लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!