मानव की सेवा सबसे बड़ी सेवा है* डॉक्टर अहमद नसीम आरजू

*मानव की सेवा सबसे बड़ी सेवा है* डॉक्टर अहमद नसीम आरजू

दरभंगा:- यह हमारे मिथिला क्षेत्र की विडंबना है कि हम लोग प्रत्येक कुछ वर्षों बाद विनाशकारी बाढ़ का सामना करते हैं। परंतु हमें इससे घबराना नहीं चाहिए बलिक इसका सामना करके इस समस्या का निदान करने की सोचनी चाहिए। इस वर्ष हम लोग दोहरी मार झेल रहे हैं एक विश्वव्यापी बीमारी कोरोना वायरस एवं दूसरा हमारा मिथिला बाढ़ की चपेट में पूरी तरह समाया हुआ है। समाज के सभी वर्ग के लोगों की यह जिम्मेवारी बनती है कि ऐसे लोगों की जरूरत पूरी करने की कोशिश करें जिन्हें आपकी मदद की जरूरत है। यह बातें मैक्सिमाईंड हेल्थकेयर प्राइवेट लिमिटेड, नई दिल्ली के चेयरमैन सह अलहिलाल हॉस्पिटल दरभंगा के निर्देशक डॉ अहमद नसीम आरजू ने कहा कि मानव सेवा ही असली सेवा है। हमें देश के उत्थान के लिए जात-पात, ऊंच-नीच, गरीबी-अमीरी से ऊपर उठकर लोगों के काम आना होगा। विनाशकारी बाढ़ में वीवो हेल्थकेयर इंस्टीट्यूट दरभंगा के फ्रेंचाइज पार्टनर डॉक्टर अहमद नसीम आरजू के नेतृत्व में लगातार बाढ़ राहत किट का वितरण कराया जा रहा है। पहले चरण में बिरदीपुर, अरई, मनिहास, गौरा, बसतवारा में 77 परिवारों को राहत कीट दिया गया। आज दूसरे चरण में शाहिद अतहर निर्देशक के नेतृत्व में पांच सदस्यीय दल ने बहादुरपुर विधानसभा क्षेत्र के तारालाही गांव में 50 परिवारों के बीच राहत किट का वितरण किया गया। इस अवसर पर शाहिद अतहर ने बताया कि तारालाही की जनता दरभंगा समस्तीपुर हाईवे पर प्लास्टिक लगाकर जिस तरह से जीवनयापन कर रही है उसे देख कर कठोर दिल भी पिघल जाएगा। मै आप सभी लोगों से निवेदन करता हूं कि आगे आकर इन लोगों की मदद करें। बाढ़ राहत किट वितरण के बारे में विस्तार से बताते हुए शाहिद ने कहा कि तीसरे चरण में बहुत जल्द हम लोग फिर किसी गांव में जाकर बाढ़ राहत किट का वितरण करेंगे। आज के बाढ़ राहत किट वितरण में सहायता करने वालों में नोवेल पब्लिक एकेडमी तारालाही के निर्देशक मोहम्मद सईद जफर एवं स्थाई निवासी में मोहम्मद चांद, मोहम्मद इमरान, मोहम्मद निजामुद्दीन इत्यादि ने भरपूर सहयोग किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!