बिहार में सरकारी नौकरी पाने का सुनहरा मौक, 31,220 पदों पर निकली वैकेंसी

बिहार के युवाओं के लिए एक बार फिर से बंपर वैकेंसी निकली है। यह वैकेंसी राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग में अलग-अलग पदों के लिए निकली है। तो वहीं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने घोषणा की है कि 31 हजार 220 पदों पर राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग में नियुक्ति होगी। भूमि संबंधित आंकड़े अपडेट करने के लिए काम तेजी से हो रहा है। कर्मियों की कमी के कारण विभिन्न पदों पर नियुक्ति की जा रही है। लोक वित्त समिति द्वारा इसकी स्वीकृति मिल चुकी है।

दरसल बिहार में 60 फीसदी से अधिक झगड़े और अपराध का कारण भूमि विवाद है। लाख-दो-लाख कोई किसी का रख लेता है तो लोग उसे उतनी गंभीरता से नहीं लेते। लेकिन एक बित्ता जमीन बड़े झगड़े का कारण बनती है, जो हत्या का रूप भी ले लेती है। भूमि विवाद के निष्पादन से अपराध में स्वत: और कमी आ जाएगी। तो वहीं इस पर विभाग के प्रधान सचिव ने बताया कि बिहार में जमीन के आंकड़े अपडेट नहीं हैं। भूमि दस्तावेज 1901 के सर्वे पर आधारित हैं। हमलोगों ने नया सर्वे सेटलमेंट कराना शुरू किया है, जो दो-ढाई साल में पूरा होगा। चार साल में चकबंदी का कार्य होगा। जिसके बाद बिहार नई ऊंचाइयों को छुऐगा।

तो वहीं राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री रामनारायण मंडल ने इस मौके पर कहा कि ऑनलाइन सिस्टम से काफी फायदा होगा। हमने अंचलाधिकारी के कार्यालय में लोगों को एड़ियां घसीटते देखा है। आपको बता दें कि इन 31220 पदों में 1203 विशेष सर्वेक्षण सहायक बंदोबस्त पदाधिकारी, 2297 सर्वेक्षक अंचल निरीक्षक, 22 हजार 966 विशेष सर्वेक्षण अमीन, 2406 लिपिक/विशेष लिपिक, 1203 कार्यपालक सहायक, 12 डाटा इंट्री ऑपरेटर और 1203 आईटी ब्यॉय की जल्द ही नियुक्ति होगी। यह नियुक्ति 2 साल के लिए होगा।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!