कोटा से चली ट्रेन में 1200 विद्यार्थी दरभंगा पहुंचे दरभंगा रेलवे स्टेशन पर जिला प्रशासन के साथ-साथ दरभंगा के विधायक संजय सरावगी जी उनका जोरदार स्वागत किया

कोटा से चली ट्रेन में 1200 विद्यार्थी दरभंगा पहुंचे
दरभंगा रेलवे स्टेशन पर जिला प्रशासन के साथ-साथ दरभंगा के विधायक संजय सरावगी जी उनका जोरदार स्वागत किया

दरभंगा न्यूज़ डेस्क

दरभंगा। राजस्थान के कोटा एवं केरल के त्रिचूर से चली एक ट्रेन बिहार के प्रवासियों को लेकर आज मंगलवार को दरभंगा चुकी है। पहली ट्रेन कोटा की है। इसके लगभग पूर्वाह्न करीब 6.30 बजे में दरभंगा जंक्शन पर अयाई है। उक्त ट्रेनों में जिला एवं आस-पास के जिलों के प्रवासी मजदूर एवं छात्र यात्रा कर रहे थे जिसकी संख्या लगभग 600 है


जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन एवं रेलवे प्रशासन द्वारा प्रवासी लोगों को सुव्यवस्थित तरीके से ट्रेन से उतारने से लेकर उन्हें गंतव्य जिलों/प्रखण्डों में भेजने तक की सारी तैयारियां कर ली गई है। सभी को प्रखंडों में क्वारेंटिन किया जायेगा. जिलाधिकारी दरभंगा डॉ. त्यागराजन एस.एम. व वरीय पुलिस अधीक्षक बाबू राम, रेल पुलिस अधीक्षक पी.के. सिंह द्वारा सोमवार को दरभंगा रेलवे स्टेशन पर पहुंचकर संयुक्त रूप से सभी तैयारियों का जायजा लिया गया था।

इस ट्रेन में कुल 24 कोच हैं. सभी कोचों से एक-एक करके यात्रि उतरेंगे और वहां पर बने गोल घेरे में खड़े होते जायेगे। यहां से उन्हें निकास मार्ग से निकालकर रेलवे परिसर में ही बने स्टॉल में ले जाया जायेगा. सभी जिलों के लिये अलग-अलग स्टॉल बनाया गया हैं। वहां पर इन यात्रियों के बैठने की व्यवस्था की गई है। इनलोगों के गंतव्य जिला के कॉउटर पर इनका निबंधन किया जायेगा। निबंधन के लिए काउण्टर पर पर्याप्त संख्या में मानव बल तैनात थे। यहां पर उन्हें भोजन के पैकेट एवं पानी के बोतल भी दिये जायेंगे और उन्हें उनके जिला के लिये निर्धारित बसों में बिठाकर भेज दिया जायेगा। इस दौरान डीएम ने अधिकारियों व कर्मियों को सोशल डिस्टेसिंग का पालन करने का निर्देश दिया है. सोसल डिस्टेंसिंग मेंटेन करने हेतु सभी बसों में क्षमता से 50 प्रतिशत् यात्री ही बिठाये जायेगे।
▪21 दिनों तक किया जायेगा क्वारेंटिन – मालूम हो कि सभी प्रवासी मजदूरों को उनके गृह प्रखण्ड मुख्यालयों में संचालित क्वारंटाइन केन्द्रों में ले जाया जायेगा। जहां 21 दिनों के लिए क्वारंटाइन रहना होगा।

जिलाधिकारी द्वारा वरीय प्रभारी-सह-अपर समाहर्त्ता एवं वाहन कोषांग के नोडल पदाधिकारी-सह-जिला परिवहन पदाधिकारी को सारी व्यवस्थाएँ सुनिश्चित कर लेने का निदेश दिया। एम.डी.एम. प्रभारी को सभी प्रवासी लोगों एवं ड्यूटी पर तैनात पदाधिकारी/कर्मी को ससमय खाने का पैकेट एवं पानी का बोतल उपलब्ध कराने का निदेश दिया गया है। नजारत उप समाहर्त्ता को रेलवे स्टेशन पर काउण्टर का निर्माण कर लाइट, कुर्सी, बैनर, ध्वनि विस्तारक यंत्र आदि की व्यवस्था सोमवार शाम तक पूरी कर लेने का निदेश दिया गया जो पूरा कर लिया गया था। सिविल सर्जन को सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग कराने, सैनिटाइज़र, मास्क आदि की व्य्वश्था रखने को कहा .प्रधान सचिव ने दिया था निर्देश
पूर्व में प्रधान सचिव, आपदा प्रबंधन विभाग, सचिव, परिवहन विभाग एवं अपर पुलिस महानिदेशक, बिहार द्वारा वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग करके बताया गया कि देश के विभिन्न हिस्सों से प्रवासी लोंगो को लेकर ट्रेनें बिहार के लिये खुल रहीं हैं. निर्देश दिया गया कि सभी प्रवासियों को रेलवे स्टेशन से सुव्यवश्थित तरिके से निकालकर बसों के माध्यम से उनके गृह जिला / प्रखंड में भेज दिया जाये.जहां उनके गृह प्रखंड में आवासित किया जायेगा. उन्होंने कहा हैं कि संगरोध भवन में अावासितों को सारी जरूरी सहूलियतें उपलब्ध कराई जाये. इस अवसर पर डी.एम., एस.एस.पी., रेल एस.पी सहित नगर पुलिस अधीक्षक योगेन्द्र कुमार, नगर आयुक्त घनश्याम मीणा, अपर समाहर्त्ता विभूति रंजन चौधरी, जिला परिवहन पदाधिकारी रवि कुमार, एसडीपीओ अनोज कुमार, आपदा प्रभारी पुष्पेश कुमार, एम.डी.एम. प्रभारी कन्हैयाजी, सभी प्रतिनियुक्त दण्डाधिकारी/पुलिस पदाधिकारी व अन्य उपस्थित थे।

जिसमें लगभग 600 विद्यार्थी है। दरभंगा रेलवे स्टेशन पर जिला प्रशासन के साथ-साथ दरभंगा के विधायक संजय सरावगी जी उनका जोरदार स्वागत किया साथ ही स्वास्थ्य कर्मियों ने इन बच्चों का थर्मल स्कैनिंग किया जिला पदाधिकारी त्यागराजन एसएम और वरीय पुलिस अधीक्षक बाबूराम तमाम अधिकारियों के साथ दरभंगा रेलवे स्टेशन पर सुबह से ही जमे रहे और तमाम तैयारियों का जायजा लिया बच्चों का स्वागत किया पूरे रेलवे परिसर को दुल्हन की तरह सजाया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!