हरी झंडी दिखा जिलाधिकारी ने मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना प्रचार रथ को किया रवाना।

जिलाधिकारी त्यागराजन एसएम ने मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के प्रचार रथ को हरी झंडी दिखाकर शुक्रवार को रवाना किया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि राज्य सरकार के स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिले के सभी प्रखंडों में प्रचार वाहन को रवाना किया गया है। इसका उद्देश्य योजना के विषय में लोगों में एलइडी टीवी, पंपलेट व फ्लैक्स आदि के माध्यम से प्रचार-प्रसार कर जागरूकता लाना है। उन्होंने कहा कि यह समाज कल्याण, स्वास्थ्य एवं शिक्षा विभाग की संयुक्त योजना है। कन्या भ्रूण हत्या को रोकना, कन्या लिंग अनुपात में वृद्धि लाना, बालिका शिशु मृत्यु दर को कम करना, बालिका शिक्षा को बढ़ावा देना तथा कन्याओं के जन्म, निबंधन तथा टीकाकरण को प्रोत्साहित इसका मुख्य उद्देश्य है। योजना के तहत कन्या के जन्म पर 2 हजार, 2 वर्ष पूर्ण होने एवं आधार पंजीकरण कराने पर 1 हजार तथा 2 वर्ष पूर्ण होने पर टीकाकरण उपरांत 2 हजार रुपया प्रतिवर्ष दिया जाएगा।

वहीं पोशाक के लिए वर्ग 1 व 2 के लिए 6 सौ, वर्ग 3 से 5 के लिए 7 सौ, वर्ग 6 से 8 के लिए 1 हजार, वर्ग 9 से 12 के लिए 15 सौ रुपया प्रतिवर्ष दिया जाएगा। साथ ही इंटर पास करने पर कन्या (अविवाहित) को 10 हजार तथा स्नातक उत्तीर्ण करने पर 25 हजार रुपया प्रतिवर्ष दिया जाएगा। इसके अलावा किशोरी स्वास्थ्य योजना अंतर्गत सेनेटरी नैपकीन के लिए वर्ग 7 से 12 तक की छात्राओं को 3 सौ रुपया प्रतिवर्ष दिए जाने की योजना है। उन्होंने कहा कि इस योजना का लाभ जिले के सभी कन्याओं को जन्म होने से लेकर स्नातक होने तक मिलेगा। इसका लाभ परिवार के दो बच्चों तक सीमित रहेगा। इसके अतिरिक्त अन्य छात्रवृति योजना, साईकिल योजना, कन्या विवाह योजना के तहत कन्याओं को पूर्व की तरह लाभ मिलता रहेगा। जिलाधिकारी ने कहा कि जन्म के निबंधन एवं टीकाकरण पर विशेष ध्यान दें। खसरा-रूबेला का भी टीकाकरण किया जा रहा है। टीकाकरण से भविष्य में सभी जानलेवा बीमारियों से बचा जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!