शहर के एक कब्रिस्तान में आगलग्गी दौरान देखने को मिली हिन्दू-मुस्लिम एकता

आज दोपहर 2:00 बजे दिन के आसपास खान चौक के कब्रिस्तान से एकबैग काफी धुआं देखने को मिला जब लोग वहां जाकर देखे तो कब्रिस्तान के अंदर घास,पेड़ो और झाड़ियों में भयंकर आग लगी हुई है और जिंदा पेड़ धू-धू कर आग में समा ररहा है जिसकी जानकारी तुरंत पार्षद सह जिला अध्यक्ष जन अधिकार पार्टी(लोक.) डॉ. अब्दुस सलाम उर्फ मुन्ना खान को दी गई वह तुरन्त घटना स्थल पर पहुंच कर अविलंब फायर ब्रिगेड को फोन पर खबर किया मगर किसी ने फोन नहीं उठाया तब तुरन्त डॉ.मुन्ना खान ने लहरियासराय थाना अध्यक्ष आर.के.शर्मा जी को दूरभाष पर इसकी सूचना दी लहरियासराय थाना प्रभारी ने तुरंत तत्परता दिखाते हुए अग्निशामक गाड़ी को वहां भेजा मगर इस बीच वहां के लोकल नौजवान ब्वली पोखर और फैजउल्ला खान के नौजवान एकजुट होकर दौड़ दौड़ कर बगल के पोखर से पानी निकाल कर बढ़ रही आग पर फेंकना शुरू किया
पूर्व पार्षद और नौजवानों की मेहनत और परेशानी को देखकर बैंक कॉलोनी के एक हिंदू भाई ने तुरंत पार्षद डॉ.मुन्ना खान और शमीम खान को आवाज देकर बुलायाऔर पाइप देने की बात कही अपने हिंदू भाई के इस मदद से पानी का छिड़काव भयावह आग पर काबू पाने के लिए करना शुरू कर दिया जिस कारण अभिलंब आग पर काबू पाया गया अगर हमारे हिंदू भाई डॉ.मुन्ना खान और समीम खान को बुलाकर पानी नहीं दिया होता तो यह आग भयंकर विकराल रूप ले लेती और आसपास के घरों को भी काफी नुकसान पहुंचाती हमारे इस हिंदू भाई का मुस्लिम समाज दिल से शुक्रिया अदा करता हैं कि उन्होंने वक्त रहते इंसानियत दिखाई और आग पर काबू पाया अन्यथा यह आग भयंकर विकराल रूप लेकर अगल बगल के घरों को भी नुकसान पहुंचाती धन्यवाद है तमाम उन नौजवानों का जिन लोगों ने बढ़-चढ़कर आग पर काबू पाने के लिए अपना योगदान दिया और उस वक्त तक मेहनत करते रहे जब तक पूरी तरह आग पर काबू नहीं पा लिया गया आग पर काबू पाने वालों में शमीम अहमद खान,मोहम्मद आरजू, कादर खान,अबू शौकत अंसारी, मिन्नतुल्लाह अंसारी,सादुल्ला दिल का महाराजा गब्बर खान,राजा खान, मोहम्मद नौशाद,आरिफ खान,भोला खान आदि ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया मीडिया से बात करते हुए डॉ खान ने बताया इन तमाम नौजवानों का शुक्रिया धन्यवाद व्यक्त करता हूं हमारे इस हिंदू भाई ने एकता और अखंडता की फिर से पहचान बना दी है लोग जितना भी नफरत फैला ले मगर समाज के लोग कभी भी अलग नहीं हो सकते हमेशा एक दूसरे के दुख में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते रहेंगे धन्यवाद के पात्र हैं हमारे वह हिंदू भाई भी जिन्होंने पानी देने का काम किया अभी आग लगी का जमाना है इसीलिए सब लोग होशियार रहें और हमेशा एक दूसरे की मदद के लिए खड़े हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!