मुख्यमंत्री के अल्पसंख्यक प्रेम पर उनके ही विधायक ने बोला हमला

माननीय मुख्यमंत्री जी को हायाघाट की धरती पर स्वागत करते है अभिनंदन करते है।

श्रीमान मेरे हायाघाट विधानसभा क्षेत्र के अल्पसंख्यक कल्याण हेतु केंद्र की सरकारें करोड़ो की फण्ड अब तक दी है।सही मायने में उस राशि को अल्पसंख्यक के कल्याण में खर्च नही कर पाता है विभाग।
उस राशि को उनके वस्ति में सामूहिक विशेस योजना बनाकर उनके उत्थान का कार्यक्रम तय करना था तय हुआ भी परन्तु बड़े ही सफाई से उस राशि को अन्य विभाग के योजना पूरा करने में कन्वर्ट कर दिया।
स्कूल कॉलेज में भवन शिक्षा विभाग को बनाना था आप इस राशि को डाइवर्ट करवा दिए।
स्वास्थ भवन मनरेगा भवन आदि विभागों में उनके राशि को खर्च कर आपने केंद्र के कल्याणकारी योजना को सामान्य योजना में परिवर्तित कर दिया।
जबकि तय हुआ था सभी अल्पसंख्यक बस्ती में डेढ़ करोड़ की राशि से सद्भावना मंडप बनेगी।फिर किस प्रस्थिति में उस योजना के बदले स्कूल कॉलेज भवन बनाने का निर्णय हुआ ये तो आपके अधिकारी जानता होगा।
वैसे जिस तरह का आपके आगमन पर अल्पसंख्यक समाज के रहनुमा नेता प्रचार प्रसार कर रहे है कही वही तो अल्पसंख्यक समाज का पैसा स्कूल भवन बनाने में कन्वर्ट तो नही करवा दिये।श्रेय लेने के जल्दवाजी में भूल गये की जगरनाथन आयोग के सिफारिश के बाद केंद्र की पूर्वर्ती सरकार के समय से ही अल्पसंख्यक बहुल क्षेत्रो में अल्पसंख्यक समाज के कल्याण के लिये उनके जीवन शैली उत्थान के लिये इस राशि का उपयोग होना था जो राज्य सरकार के पास कोई नीति नही होने के कारण उनका विशेस राशि को अन्य योजना में डाइवर्ट किया जा रहा है।
श्रीमान वर्तमान सरकार के समय भी राशि आरही है परंतु राज्य सरकार के पास सीधा अल्पसंख्यक समाज के जीवन शैली बदलने को कोई कार्यक्रम ही नही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!