प्रवासी कामगारों को स्थानीय स्तर पर विभिन्न कार्य विभागों में मिलने लगा है काम ।

प्रवासी कामगारों को रोजगार हेतु परामर्श देने के लिये जिला परामर्श दात्री केन्द्र चालू किया गया ।

प्रवासी कामगारों को स्थानीय स्तर पर विभिन्न कार्य विभागों में मिलने लगा है काम ।

मनरेगा योजना के तहत 60 हज़ार से अधिक प्रवासी कामगारों को जॉब कार्ड दिया गया ।

श्रम संसाधन पोर्टल पर 90,162 प्रवासी कामगारों का निबंधन हुआ ।

कोरोना महामारी की रोकथाम हेतु देशव्यापी लॉक डाउन से प्रभावित होकर देश के विभिन्न हिस्सों से जिला में वापस लौटे प्रवासी कामगारों को स्थानीय स्तर पर रोज़गार प्रदान करने की कार्रवाई तेज़ी से की जा रहीं हैं। प्रवासी कामगारों को उनके स्किल के अनुरूप ही काम देने के लिये डाटा बेस तैयार कर श्रम संसाधन पोर्टल पर अपलोड किया जा रहा है।
श्रम संसाधन पोर्टल पर 90,162 प्रवासी कामगारों का निबंधन करा लिया गया है ।
प्रवासी कामगारों को उनके स्किल के अनुरूप कार्य मुहैय्या कराने हेतु आज उप विकास आयुक्त, दरभंगा द्वारा डीआरसीसी, कैदराबाद परिसर में जिला स्तरीय परामर्शदात्री केन्द्र का शुभारम्भ किया गया.
यह केन्द्र प्रवासी कामगारों को उनके स्किल के अनुरूप कार्य मुहैय्या कराने के कार्य को फैसिलिटेट करेगा.
इस अवसर पर निदेशक डीआरडीए एवं अन्य वरीय उप समाहर्ता मौजूद थे.
प्राप्त सूचनानुसार मनरेगा योजना के तहत कुल 86,763 कुशल /अर्द्धकुशल मजदूरों का नियोजन किया गया है। 60096 मजदूरों को जॉब कार्ड जारी किया गया है.
वहीं लोक स्वास्थ्य प्रमंडल, दरभंगा द्वारा 278 अकुशल मजदूर एवं कुशल पलंबर/बोरवेल ऑपरेटर का नियोजन किया गया है और उन्हें संवेदक के माध्यम से रोजगार प्रदान किया जा रहा है. मजदूरों को समय पर पारिश्रमिक का भुगतान भी हो रहा है. भवन निर्माण प्रमंडल दरभंगा द्वारा 58 विभिन्न कार्य दक्षता वाले कारीगरों का नियोजन किया गया है. पथ निर्माण प्रमंडल दरभंगा द्वारा 61 अकुशल एवं पथ प्रमंडल बेनीपुर एवं बिरौल द्वारा 30 अकुशल मजदूरों का नियोजन किया गया है और उनको ससमय भुगतान भी किया जा रहा है. ग्रामीण कार्य प्रमंडल दरभंगा-01 एवं 02 द्वारा क्रमशः 2469 एवं 35 कुशल/अकुशल कामगारों को नियोजित किया गया है. ग्रामीण कार्य प्रमंडल बेनीपुर एवं बिरौल द्वारा क्रमशः 15 एवं 38 कुशल/अकुशल , स्थानीय क्षेत्र संगठन दरभंगा-01 द्वारा 36 अकुशल एवं स्थानीय क्षेत्र संगठन बेनीपुर द्वारा 13 अकुशल मजदूरों को नियोजित किया गया है.

जल निस्सऱण प्रमंडल, दरभंगा द्वारा फ्लड फाइटिंग वर्क, जिओ बैग एवं गैबियन बैग के प्लेसिंग आदि कार्य हेतु 97 कामगारों को कार्य पर रखा गया है। बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल, दरभंगा द्वारा 115 एवं लघु सिंचाई प्रमंडल द्वारा 140 मजदूरों का नियोजन किया गया है. इसके साथ ही कृषि विभाग के आत्मा योजना के तहत 330 अकुशल प्रवासी कामगारों की सूची प्रखंड तकनीकी प्रबंधक को उपलब्ध करा दिया गया है. इनमें से इच्छुक कामगारों को उन्नत कृषि, पशुपालन एवं मत्स्य पालन के क्षेत्र में प्रशिक्षण प्रदान कर स्वरोजगार हेतु प्रोत्साहित किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!