धन्यवाद यात्रा के दौरान आपत्तिजनक नारा लगाने व शास्त्र प्रदर्शन के खिलाफ दिया ज्ञापन


जिलाधिकारी से मिला प्रतिनिधिमंडल

धन्यवाद यात्रा के दौरान आपत्तिजनक नारा लगाने व शास्त्र प्रदर्शन के खिलाफ दिया ज्ञापन

दरभंगा: गुरुवार को जिलाधिकारी त्यागराजन एस. एम्. व एसएसपी बाबू राम से एक प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात कर सीएए और एनआरसी को लेकर विगत 23 दिसंबर को आयोजित विरोध मार्च व सभा को शांति पूर्ण सम्पन्न कराने के लिए जिला प्रशासन का आभार व्यक्त किया।
प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने जिलाधिकारी व एसएसपी से कहा कि हम सभी समाज में शांति और सौहार्द को कायम रखने के लिए सदा सक्रिय रहे हैं और सदा रहेंगे लेकिन शहर में जो लोग अशांति फैलाने का काम करते हैं उनपर प्रशासन उचित कार्रवाई करे।
प्रतिनिधिमंडल का कहना था कि हम अपने अधिकार और मांग के लिए संविधान में मिले अधिकार के तहत संवैधानिक तरीके से विरोध जताने का काम करते हैं, लेकिन कुछ कट्टरवादी संगठनों द्वारा जुलूस और सभा में जिस प्रकार आपत्तिजनक नारों व शब्दों का प्रयोग किया जाता है ये सही नहीं है।

सामाजिक व धार्मिक संस्थाओं के तकरीबन डेढ़ दर्जन प्रतिनिधियों के साथ शांति समिति सदस्यों ने गुरुवार को ज़िला प्रशासन के समक्ष गत 24 दिसंबर को सम्पन्न हुए धन्यवाद यात्रा के दौरान आपत्तिजनक नारा, धर्म विशेष पर असंवैधानिक टिप्पणी, जुलूस में गैर कानूनी तरीके से शस्त्र का प्रदर्शन की बात और साक्ष्य रखे।
जिलाधिकारी व एसएसपी ने प्रतिनिधिमंडल को आश्वस्त किया है कि कानून का मजाक उड़ाने वालों पर उचित कार्रवाई की जाएगी।
प्रतिनिधिमंडल में सरफे आलम तमन्ना, पूर्व पार्षद नफीसुल हक रिंकू, रुस्तम कुरैशी, पूर्व पार्षद मुन्ना खान, पूर्व पार्षद अनवार अली, पार्षद रियासत अली, शाह मोहम्मद शमीम, रेयाज खान क़ादरी, फोज़ैल अंसारी, इंजीनियर इश्तेयाक उर्फ़ पप्पू, मोहम्मद उमर, आफ़ताब अशरफ, गुलाम मोहम्मद, डॉ. इमामुल हक, इंसाफ मंच के नेयाज अहमद, मक़सूद आलम उर्फ़ पप्पू, नोशाद आलम, आस मोहम्मद, मोहम्मद गुलाब आदि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!