जिलाधिकारी ने की बाढ़ व अनलॉक को लेकर ऑनलाइन बैठक


जिलाधिकारी ने की बाढ़ व अनलॉक को लेकर ऑनलाइन बैठक*
जिलाधिकारी डॉ त्यागराजन एस.एम.ने अनलॉक -03 व पी. एफ. एम. एस में डाटा प्रविष्टि को लेकर अपने कार्यालय प्रकोष्ठ से सभी संबंधित अंचलाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं थाना अध्यक्ष के साथ ऑनलाइन बैठक की।

बैठक में उन्होंने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं थाना प्रभारी को संबोधित करते हुए कहा कि अनलॉक03, 06 सितंबर 2020 तक बढ़ा दिया गया है। इसलिए निदेशानुसार कहीं भी मुहर्रम में जुलूस एवं ताजिया नहीं निकाला जाएगा।
गणेश चतुर्थी के अवसर पर मूर्ति की स्थापना नहीं की जाएगी। धार्मिक संस्थान आम आदमी के लिए बंद रहेगा। सार्वजनिक स्थानों पर मूर्ति स्थापना, पूजा एवं विसर्जन प्रतिबंधित है इसलिए मूर्ति बनने के समय ही इसे रुकवा दें। इसके लिए सभी पूजा समिति के साथ शीध्र बैठक कर लें तथा सभी अनुमंडल पदाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक द्वारा इसकी निगरानी की जाए। साथ ही चौकीदार के माध्यम से सभी संबंधित को सूचित करवा दिया जाए।
उन्होंने कहा कि शहर में कई स्थलों पर बड़ी-बड़ी मूर्तियां बनाई जा रही है। क्यों बनाए जा रही है, उसे दिखवा लिया जाए।

सब्जी, मीट, मछली की दुकानें प्रातः 6:00 बजे से पूर्वाह्न 10:00 बजे तक खुलेंगी तथा अन्य आवश्यक सामानों की दुकानें(जिन्हें अनुमति दी गयी है) पूर्वाह्न 10:00 बजे से संध्या 6:00 बजे तक खुलेंगी।
उन्होंने मास्क के लिए लगातार अभियान चलाने तथा कंटेनमेंट जोन का ब्रैकेटिंग करवाने, वहाँ प्रतिबंधित क्षेत्र का बैनर लगवाने एवं प्रतिदिन किसी न किसी पदाधिकारी के द्वारा निरीक्षण करवाने के निर्देश दिए।
वहीं शहरी क्षेत्र के लिए नगर आयुक्त को निदेश दिया गया।
बैठक में नगर पुलिस अधीक्षक श्री योगेंद्र कुमार ने सभी थाना प्रभारियों को संबोधित करते हुए कहा कि जिले में जहां भी मूर्तियां बनाई जा रही है।
वहाँ स्थल निरीक्षण कर लें तथा पूजा समितियों एवं जुलूस निकालने वालों को सूचित कर दें कि अनलॉक में इसकी अनुमति नहीं है।
साथ ही सभी पूजा समिति के साथ जल्द बैठक कर लें तथा शांति समिति की भी बैठक कर ली जाए।
मास्क अभियान लगातार जारी रखा जाए।
इसके उपरांत जिलाधिकारी ने संबंधित अंचलाधिकारियों के साथ बाढ़ प्रभावित परिवारों का पी.एफ.एम.एस में डाटा एंट्री को लेकर बैठक की।
उन्होंने बेनीपुर, बहेड़ी और बिरौल में तीन शिफ्ट में डाटा इंट्री कराने के निर्देश दिए।
उन्होंने सभी संबंधित अंचल अधिकारियों को कहा कि डाटा प्रविष्टि में तेजी लाएं तथा प्राथमिकता देकर प्रतिदिन अनुश्रवण करते हुए इस काम को करावे।
उन्होंने सभी संबंधित अंचल अधिकारियों को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में ब्लीचिंग पाउडर का स्प्रे कराने तथा गृह क्षति, फसल क्षति का आकलन करा लेने के निर्देश दिए।
बैठक में नगर आयुक्त श्री घनश्याम मीणा, उप विकास आयुक्त डॉ कारी प्रसाद महतो, अपर समाहर्ता श्री विभूति रंजन चौधरी, अनुमंडल पदाधिकारी श्री राकेश कुमार गुप्ता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!