छात्रों के लिए प्रेरणादायक होगा प्रथम दीक्षांत समारोह: डॉ0 मो0 रहमतुल्लाह।

मिल्लत कॉलेज में 27 मई को होने वाले दीक्षांत समारोह की तैयारियां जोरों पर। विभिन्न कोषांगों ने संभाली जिम्मेवारी। 309 विद्यार्थियों को मिलेगा प्रमाण पत्र। 16 विद्यार्थियों को मिलेगा बेस्ट ग्रैजुएट अवॉर्ड तथा गोल्ड मेडल।

कॉलेज स्तर पर छात्र-छात्राओं को दीक्षांत समारोह के माध्यम से डिग्रियां देने की नई परंपरा बिहार में प्रारंभ हुई है। इसके तहत ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय दरभंगा के जिन महाविद्यालयों को प्रारंभ में ही यह अवसर प्राप्त हुआ है उसमें मिल्लत कॉलेज का नाम भी शामिल है। प्रधानाचार्य डॉक्टर मोहम्मद रहमतुल्लाह ने इस संबंध में जानकारी देते बताया कि आगामी 27 मई को मिल्लत कॉलेज में 2015 -2018 बैच के सफल छात्र – छात्राओं को प्रमाण पत्र देने हेतु दीक्षांत समारोह का आयोजन होने जा रहा है। इसके लिए कई कमेटियों तथा कोषांगों का गठन कर लिया गया है तथा कमेटियों ने अपनी जिम्मेवारी संभाल ली है। उन्होंने इस सिलसिले में लगातार हो रही बैठकों तथा कमेटियों की सक्रियता की चर्चा करते हुए कहा कि यह नए तरह का आयोजन है जो किसी भी कॉलेज में पहली बार होने जा रहा है तथा इसके लिए तमाम शिक्षकों, कर्मचारियों, छात्र संगठन के पदाधिकारियों,एन सी सी एवं एनएसएस के कार्यकर्ताओं तथा तमाम छात्र – छात्राओं का भरपूर सहयोग प्राप्त हो रहा है। डॉक्टर मोहम्मद रहमतुल्लाह ने कहा कि यह आयोजन बेशक रमजान के पवित्र महीने में होने जा रहा है पर लोगों के उत्साह को देखते हुए ऐसा लगता है कि इसकी तैयारियों पर रोजे का कोई असर नहीं पड़ेगा तथा यह आयोजन न सिर्फ ऐतिहासिक होगा बल्कि अन्य छात्र – छात्राओं के लिए प्रेरणादायक भी होगा। उन्होंने बताया कि 27 मई को होने जा रहे प्रथम दीक्षांत समारोह के मुख्य अतिथि ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर सुरेंद्र कुमार सिंह होंगे, जबकि दीक्षांत भाषण हेतु मुख्य वक्ता के रूप में ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रोफेसर एस पी सिंह उपस्थित रहेंगे। इसके साथ ही विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार कर्नल (सेवानिवृत) निशीथ कुमार राय, परीक्षा नियंत्रक डॉ अशोक कुमार मेहता तथा एलुमनाई के रूप में कॉलेज के पहले बैच (1959) के टॉपर छात्र रहे मोहम्मद सोहैब कैस को विशिष्ट अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया है ।
डॉक्टर मोहम्मद रहमतुल्ला ने बतलाया कि इस दीक्षांत समारोह में सत्र 2015 – 2018 के विज्ञान, कला तथा भाषा – साहित्य विषयों के लगभग 309 विद्यार्थियों को प्रमाण – पत्र प्रदान किया जाएग। वहीं अलग-अलग विषयों में सर्वाधिक अंक प्राप्त करने वाले 16 विद्यार्थियों को संबंधित विषय का बेस्ट ग्रैजुएट अवॉर्ड तथा गोल्ड मेडल प्रदान किया जाएगा
इस अवसर पर कॉलेज शिक्षक संघ के सचिव डॉक्टर महेश चंद्र मिश्र ने आश्वस्त किया कि महा विद्यालय के सभी शिक्षक अपनी पूरी क्षमता के साथ सहयोग करेंगे। उन्होंने कार्यक्रम की सफलता के लिए सभी शिक्षकों तथा शिक्षकेतर कर्मचारियो की सक्रिय भागीदारी की आवश्यकता पर बल दिया।
इस अवसर पर कॉलेज के वरीय शिक्षक डॉक्टर शहनाज बेगम, डॉक्टर अताउर रहमान, डॉक्टर मोहित ठाकुर, डॉक्टर इंसान अली, डॉक्टर अयाज अहमद, डॉक्टर सुनीता झा, डॉक्टर कीर्ति चौरसिया, मो अलताफुल हक, श्री हेमंत कुमार झा, डॉक्टर रिजवान, डॉक्टर मुदस्सीर हसन भट, डॉ राज किशोर पासवान, डॉ पूनम चौधरी, डॉक्टर इस्मत जहां, मनीष कुमार, जेबा परवीन तथा ए के मेहरा, जलालुद्दीन मुजफ्फर, राम शंकर झा,मोहम्मद इरशाद एवं प्रीति पीटर सहित सभी शिक्षक एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!