कोरोना पोजिटिव के सम्पर्क में आये सभी 13 लोगों को आइसोलेशन वार्ड में भर्त्ती कराया गया।

कोरोना पोजिटिव के सम्पर्क में आये सभी 13 लोगों को आइसोलेशन वार्ड में भर्त्ती कराया गया।

बाहर से आ रहे अप्रवासी मजदूरों को प्रखण्ड में क्वारंटाइन किया जायेगा- डीएम.

जिलाधिकारी, दरभंगा डॉ. त्यागराजन एस.एम. ने बताया है कि दिनांक 27 अप्रैल 2020 को एक संदिग्ध मरीज की कोरोना पोजिटिव की पुष्टि होने पर प्रशासन द्वारा तत्परता बरतते हुए उनके सम्पर्क में आये कुल 13 लोगों को डी.एम.सी.एच. के आइसोलेशन वार्ड में भर्त्ती करा दिया गया है। इनलोगों के सैंपल कलेक्ट कर जांच की जा रही है।
उन्होंने कहा कि कल तक जांच रिपोर्ट प्राप्त हो जाने की संभावना है। उन्होंने ये बातें कार्यालय प्रकोष्ठ में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहीं है।
जिलाधिकारी द्वारा बताया गया कि डी.एम.सी.एच. में कोरोना पोजिटिव मरीज की समुचित चिकित्सा की जा रही है। विशेषज्ञ चिकित्सक उक्त मरीज के स्वास्थ्य पर नजर रखे हुए हैं ।

उन्होंने बताया कि उक्त मरीज 22 अप्रैल की रात्रि में दिल्ली से एम्बुलेंस पर अपने गांव शोभन, दरभंगा पहुंचा था। अगले दिन दरभंगा नगर के मीर कासिम टोला में अवस्थित मकान में रहा। वह एक रैन बसेरा में भी रहने गया था। वह जिस रिक्शे से यहां-वहां घूमा उस रिक्शे वाले एवं उक्त मरीज के नजदीकी सम्पर्क में आये सभी 13 लोगों की अतिशीघ्र पहचान कर उन्हें आइसोलेट कर दिया गया है।
उन्होंने कहा कि कोरोना मरीज के गांव शोभन एवं मीर कासिम टोला को बैरिकेडिंग करके पूरे आस-पास के क्षेत्र को सैनिटाइज किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग की टीमों के द्वारा घर-घर स्क्रीनिंग कराई जा रही है।
उन्होंने कहा कि लोगों को डरने की कतई जरूरत नही है। सभी लोग लॉक डाउन नियम का पालन करें और अपने घर में ही रहें । अगर घर से निकलते है तो मास्क/ग्लब्स पहनकर ही निकलें।
कहा कि लोगों में जागरूकता बढ़ी है। लोगों को कोरोना के लक्षणों के बारे में जानकारी हो गई है। इसलिए जिलेवासियों से अपील करते है कि अगर किसी भी व्यक्ति में कोरोना के लक्षण पाये जायें तो बेहिचक इसकी सूचना टॉल फ्री नम्बर 104 पर अथवा जिला नियंत्रण कक्ष के दूरभाष संख्या – 06272-245055 पर दें। उनको तुरंत जरूरी चिकित्सीय सुविधा प्रदान की जायेगी। आवश्यकता पड़ने पर जांच भी कराई जायेगी।
उन्होंने बताया कि दरभंगा में राज्य के बाहर से अप्रवासी मजदूरों का बराबर आगमन हो रहा है। ऐसे लोगों पर नजर रखी जा रही है। उन्हें पहले 14 दिनों तक गांव के स्कूल/पंचायत भवन में क्वारंटाइन किया जाता है।

कहा कि अब आगे से प्रखण्ड मुख्यालय में क्वारंटाइन किया जायेगा। सभी प्रखण्ड मुख्यालयों में 03-04 भवन चिन्ह्ति कर बुनियादी सुविधाएं विकसित की जा रही है। कहा कि आज 82 अप्रवासी लोगों के यहां आने की सूचना है। उक्त सभी व्यक्तियों को संबंधित प्रखण्ड मुख्यालय में ही क्वारंटाइन किया जायेगा। कहा कि अबतक लगभग 13,000 अप्रवासी मजदूरों के यहां आने की सूचना है।
उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास योजना, सिंचाई परियोजनाएँ, पुल-पुलिया, सड़क आदि का निर्माण कार्य प्रारंभ किया गया है। दिनांक 20 अप्रैल 2020 तक 45,000 मानव दिवस सृजित हुआ है। एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने बताया कि डी.एम.सी.एच. के माइक्रोबायोलॉजी विभाग में कोरोना बीमारी की जांच की सुविधा बहाल हो गई है। अबतक कुल 350 सैंपल की जांच की जा चुकी है।
इस प्रेस कॉन्फ्रेस में जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी सुशील कुमार शर्मा, आपदा प्रभारी पुष्पेश कुमार सहित प्रिंट/इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के अनेक प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!