कैसे पता चलेगा कि आप Corona वायरस के चपेट में है या नहीं..?????

घबराए नहीं सतर्क रहें आपसी दूरी ही Corona वायरस से बचाव का एकमात्र उपाय है

कब Corona वायरस संक्रमण के लिए जांच कराएं..??

सबको laboratory टेस्ट द्वारा जांच की जरूरत नहीं है:-

– यदि आपको खांसी बुखार अथवा सांस लेने में कठिनाई जैसी तकलीफ नहीं है तो Corona वायरस के जांच की जरूरत नहीं है

डॉक्टरों की सलाह एवं laboratory टेस्ट जरूर कराएं यदि:-

– हाल में आपने Corona वायरस प्रभावित देशों अर्थ व क्षेत्रों की यात्रा क्या हो या प्रभावित देशों से आए व्यक्ति के संपर्क में रहे हो किसी लैबोरेट्री कंफर्म संतुष्ट Corona वायरस बीमारी से पीड़ित व्यक्ति के संपर्क में आए हो इसके उपरांत यदि आपको खांसी बुखार अथवा सांस लेने में कठिनाई है

यदि कोई व्यक्ति विगत 14 दिनों में भारत के बाहर से अर्थ व राज्य के बाहर ऐसे क्षेत्रों से वापस आए हैं जो क्रोना वायरस से संक्रमित हो अर्थ व ऐसे संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में रहे हो अर्थ व संक्रमित व्यक्ति के निवास स्थान के आसपास चिन्हित क्लस्टर में निवास करते हो तो ऐसे व्यक्ति को 14 दिनों के लिए Home Quarantine में रहने की जरूरत है

घर में अलग रहने से होगी Corona वायरस की हार

(Home Quarantine का मतलब है कि घर की एक कमरे में अलग रहना किसी के संपर्क में नहीं आना)

👉 क्या करें

1. 14 दिनों तक Home Quarantine अर्थ व घर के अन्य सदस्यों से दूर किसी हवादार कमरे में ही रहे तथा संभव हो तो अलग टॉयलेट का उपयोग करें यदि एक ही कमरे में रहने रहना पड़े तो अन्य सदस्यों से कम से कम 1 मीटर की दूरी बनाकर रखें
2. घर में भी इधर उधर ना जाए
3. निरंतर अपने हाथों को साबुन से बहते पानी से धोते रहें अर्थ व अल्कोहल युक्त हैंड सेनीटाइजर से हाथों को साफ करते रहे
4. हमेशा सर्जिकल मास्क रुमाल का उपयोग करें और अधिकतम 8 घंटे तक ही एक मास का उपयोग कर मांस को सही जगह देख कर फेंक दें.
5. हमेशा साफ-सुथरे कपड़े का उपयोग करें उपयोग किए हुए कपड़े को तुरंत डिटर्जेंट पाउडर आदि से साफ करें.

👉 क्या ना करें.

1. अपनी एवं आस पास के लोगों से भी नहीं मिले.
2. किसी भी परिस्थिति में भीड़भाड़ वाली जगह धार्मिक स्थल, शादी, विवाद, शोक सभा, सिद्धांत आदि में शामिल नहीं हो.
3.बड़े बुजुर्ग, गर्भवती महिला ,बच्चे तथा हृदय रोगी निमोनिया ,दम्मा, मधुमेह ,किडनी उच्च रक्तचाप आदि के मरीजों से भी बिल्कुल अलग रहे
4. संदिग्ध व्यक्ति घर के ऐसे किसी अन्य सामग्री को भी स्पर्श नहीं करें जिससे घर के अन्य सदस्य छूते हो क्योंकि इससे संक्रमण दूसरे व्यक्ति में प्रवेश करेगा
5. घरेलू सामग्री यथा बर्तन कपड़े आदि घर के किसी दूसरे सदस्य के साथ बिल्कुल ही साझा नहीं करें

अगर कुरौना वायरस के कोई लक्षण जैसे कि बुखार खांसी सांस लेने में तकलीफ महसूस हो तो टोल फ्री नंबर 104 पर चौबीसों घंटे अर्थ व अपने जिले के सिविल सर्जन कार्यालय के नियंत्रण कक्ष पर संपर्क कर चिकित्सालय सलाह प्राप्त करें

👉 परिवार के सदस्यों हेतु आवश्यक सुझाव
(Home Quarantine का मतलब घर की एक कोने में ही रहना)

1.घर के किसी एक ही व्यक्ति को संदिग्ध व्यक्ति के देखरेख हेतु चिन्हित करें और वह भी संदिग्ध व्यक्ति से सावधानी पूर्वक दूरी बनाए रखें

2.गंदे कपड़े का उपयोग ना करें निरंतर कपड़े को डिटर्जेंट आदि से साफ करने के बाद ही उपयोग में लाएं

3.संदिग्ध व्यक्ति के संपर्क में आए तथा उनके द्वारा उपयोग किए जा रहे सभी सामग्री यथा कपड़े बर्तन सत्ता टॉयलेट रूम इत्यादि को कीटाणु मुक्त करने वाले सामग्री यथा डिटर्जेंट लाइव रोल डिटॉल आदि से साफ करते रहें.

4.कपड़े के प्रत्येक कोने सीलिंग इत्यादि को भी अच्छे तरीके से साफ करते रहे

5.Home Quarantine अर्थात संयम रूप से सभी के संपर्क से अलग रहने की यह अवधि 14 दिनों की होगी अर्थात संदिग्ध व्यक्ति का लैबोरेट्री जांच हेतु भेजा गया नमूना के नकारात्मक घोषित होने तक ही होगी

6.यदि home Quarantine में वासित व्यक्ति में करुणा के संक्रमण की पुष्टि हो जाए तो उनकी निकट संपर्क में रहने वाले घर के सभी सदस्य सदस्यों को भी कम से कम 14 दिनों तक अर्थ वास सभी के नमूना की जांच का निष्कर्ष आने तक Home Quarantine में रहे.

👉 कोरोना वायरस के जांच हेतु नमूना संग्रह की सुविधा सभी चिकित्सा महाविद्यालय अस्पतालों में एवं इसके जांच की सुविधा राज्य के मात्र राजेंद्र मेमोरियल मेमोरियल इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस पटना में उपलब्ध है

👉 ध्यान दें :- किसी भी निजी अस्पताल या जांच घर में इस संक्रमण के जांच की सुविधा उपलब्ध नहीं है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!