डीएमसीएच की लचर व्यवस्था को लेकर इंसाफ मंच ने दिया प्रतिरोध धरना

Politics


डीएमसीएच की लचर व्यवस्था को लेकर इंसाफ मंच ने दिया प्रतिरोध धरना।

# डीएमसीएच में लचर व्यवस्था से हुई जमाल अतहर रूमी, प्रो उमेश चंद्र और गंगा देवी की मौत की उच्चस्तरीय जांच हो- नेयाज अहमद

दरभंगा, 29 जुलाई

‌जमाल अतहर रूमी, प्रोo उमेश चंद्र और गंगा देवी की डीएमसीएच में लापरवाही से हुई मौत मामले को लेकर इंसाफ मंच के बैनर तले किलघाट में इंसाफ मंच के प्रदेश उपाध्यक्ष नेयाज अहमद, पूर्व पार्षद नफिसुल हक रिंकु नफिसुल हक रिंकू, भूषण मंडल, अकरम सिद्दकी व मकसूद आलम” पप्पू खां के नेतृत्व में प्रतिरोध धरना दिया गया। धरना में अकरम सिद्दीकी नफीस उल हक रिंकू रुस्तम कुरैशी रियाज खान कादरी मोहम्मद जमशेद अहमद अली तमन्ना अशोक पासवान राजा पासवान भूषण मंडल लक्ष्मण पासवान मोहम्मद कुर्बान मोहम्मद रेहान रशीदा खातून शनिचरी देवी अनिल पासवान पंचायत समिति, सफीउर रहमान अधिवक्ता मुर्तुजा राईन मनोज पासवान, संतोष यादव, मो जमशेद, मो अशलम, मो आरजू आदि ने शिरकत किया। धरना को सम्बोधित करते हुए इंसाफ मंच के नेयाज अहमद ने कहा कि डीएमसीएच में लापरवाही व लचर व्यवस्था से जमाल अतहर रूमी, प्रो उमेश चंद्र, और गंगा देवी को अपनी जान गवानी पड़ीं हैं। और डीएमसीएच अपनी गलती मानने के बदले उल्टे पीड़ित परिवारों पर मुक़दमा कर दिया। पूरे मामले का उच्चस्तरीय जांच व दोषियों पर कार्रवाई किया जाय नहीं तो आंदोलन को तेज करने को बाध्य होंगे। धरना को सम्बोधित करते हुए अकरम सिद्दीकी ने कहा कि डीएमसीएच में हुई इन मौतों के दोषियों को सलाखों के पीछे भेजकर डीएमसीएच की गुंडागर्दी को खत्म करें‌ और मृतक के परिजनों को‌ न्याय दिलाने में अपना भरपूर सहयोग दे। पूर्व पार्षद नफिसुल हक”रिंकू ने कहा कि जिला पार्षद जमाल अतहर रूमी की डीएमसीएच मौत क़ई सवाल खड़े करते हैं। जब रूमी को कोरोना नेगेटिव होने के बाद भी कोरोना मरीज के रूप में उनका ट्रीटमेंट कैसे हुआ इसका जवाब डीएमसीएच को देना होगा। दरभंगा जिला मुहर्रम कमिटी के सचिव रूस्तम कुरैसी ने कहा कि पीड़ित परिवार को न्याय देने के बदले उल्टे मुक़दमा करना इंसाफ की हत्या हैं। धरना की अध्यक्षता मो रियाज खान कादरी ने किया।

नेयाज अहमद राज्य उपाध्यक्ष इंसाफ मंच

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *